बेटी और दामाद मना रहे थे सुहागरात, तभी कमरे में पहुंची माँ और फिर जो हुआ.. |

0
3988

इस बात में कोई शक नहीं कि भारत बाकी अन्य देशों से काफी संस्कारी एवं परंपरिक है. यहाँ के लोग हर चीज़ में कोई न कोई रसम रिवाज़ लागू जरुर करते ही हैं. इसके इलावा हम आपको बता दें कि हमारे भारत में शादी को लेकर काफी सारे रीति रिवाज़ बनाए गए हैं, जो सदियों से कईं पीढियां फॉलो करती आ रही हैं. ऐसे में दुल्हन के मेहँदी रसम  से लेकर जयमाला तक को काफी अहमियत दी जाती है. यूँ कह लीजिये कि भारत के लोग रीति रिवाजों को लेकर काफी सीरियस रहते हैं. इतना ही नहीं यहाँ शादी की पहली रात को भी दुल्हे और दुल्हन के लिए कईं रसमें बनाई गई हैं. इन्ही में से दूध का गिलास पिलाना सबसे अहम और शुभ माना जाता  है.

बहरहाल, आज हम भारत ही नही बल्कि, अन्य देशों के अजीबों गरीब रिवाजों के बारे में आपको रूबरू करवाने जा रहे हैं. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि इस दुनिया में ऐसे कईं देश हैं, जहाँ शादी को लेकर अजीबो गरीब परम्पराएं बनाई गई हैं. विदेशों में इतने सारे रिवाज हैं कि जब हम सुनते हैं तो हम भी दंग रह जाते हैं कि ऐसा भी हो सकता है? ये रिवाज़ कईं बार हमें आश्चर्यचकित करते हैं. कुछ ऐसा ही रिवाज़ कोलंबिया शहर में प्रचलित है. जहाँ, शादी के बाद दुल्हे और दुल्हन को दुल्हन की माँ के सामने हनीमून मनाना पड़ता है.

शादी के बाद शारीरक संबंध बनाना एक ऐसी परंपरा है, जिसको लोग अकेले में निभाना अधिक पसंद करते हैं. लेकिन, कोलंबिया के लोगों का इस रसम को लेकर कुछ और ही कहना है. वहां के लोग शादी के बाद शारीरक संबंध दुल्हन की माँ के सामने बनाते हैं. आपको शायद इस बात पर यकीन नहीं हो रहा होगा. लेकिन, दोस्तों ये बात एकदम सच है. हमारी इस दुनिया में ऐसे ही कई अजीब रिवाज़ है, जिसके बारे में हम सपने में भी नहीं सोच सकते. दरअसल, आज हम कोलंबिया के काली नामक स्थान के बारे में बताने जा रहे हैं, जहाँ हनीमून मनाने के लिए कमरे में दूल्हन की माँ को बुलाया जाता है.

जैसे हमारे देश में शादी के समय उचित पकवान बनाए जाते हैं. ठीक वैसे ही काली में भी शादी को लेकर कईं प्रकार के जश्न मनाए जाते हैं. काली नामक इस स्थान में भी बाकी देशों की तरह शादी में मेहमानों का स्वागात काफी अच्छे तरीके से किया जाता है. लेकिन, यहाँ की हैरान कर देनी वाली बात ये है कि जैसे हमारे देशों में शादी के बाद कपल को दुसरे कमरें में हनीमून मनाने भेज दिया जाता है, ठीक वैसे ही यहाँ भी दुल्हे दुल्हन को संबंध बनाने के लिए दुसरे रूम में भेज दिया जाता है और तभी उनके कमरे में दुल्हन की माँ को भी भिजवा दिया जाता है.

इस जगह ऐसी अजीबो गरीब परंपरा होने का क्या कारण है? ये तो हम भी नहीं जानते. मगर यहाँ, जब तक लड़का और लड़की हनीमून मना कर फारिग नहीं हो जाते, तब तक कमरे में दुल्हन की माँ उनके सामने ही बैठी रहती है. एक रिपोर्ट के अनुसार यहाँ सालों से इस परंपरा को लोग निभाते चले आ रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here